CANDLESTICKIDEA.COM

FII Full From In Hindi – FIIs कौन होते है

Rate this post

आपने “FII” या Foreign Institutional Investors शब्द सुना होगा, जिनको हिन्दी मे विदेशी संस्थागत निवेशक भी कहते है जो भारतीय Shar Market में भाग लेने वाले Investment के Investors के बारे कहा को जाता है। Business News Channel अक्सर FII Activities कि Report पर बात करते रहते हैं, जिसमें Trading Session के दौरान FII द्वारा Buying या Selling किये गए Investment पर चर्चा की जाती है। भारतीय Stock Market में उनकी Sentiment और Potential Activities को समझने के लिए इस जानकारी का बारीकी से जानने कि कोशिश कि जाती है। FII Activities पर नजर रखकर Market मे Active Traders को उनके Investment Behavior के आधार पर Market के Trend को Analyze और Prediction करने में मदद मिलती है।

FIIs कि परिभाषा – FIIs क्या है

Foreign Institutional Investors Investment करने वाले Foreign Investors होते हैं, जैसे Mutual Fund, Pension Fund, Hedge Fund और अन्य बड़े Financial Institute, जो अपने देश से अलग किसी देश के Financial Market में Invest करते हैं। यहां पर भारत के बाहर से भारतीय Stock Market मे Invest करने वाले Investor वे Global Economy में Important Role निभाते हैं और Stock, Bond और अन्य Securities सहित अलग-अलग Financial Markets में Important Partner हैं। Foreign Institutional Investors Foreign Capital लाते हैं, जिसका Host County के Financial Market और Economic पर Positive और Negative दोनों Effect पड़ते हैं। उनकी Activities पर Related Country के Financial Officer द्वारा बारीकी से नजर और Regulate किया जाता है।

Risk Management In Hindi – Trading 90% तक Profit बढ़ाने मदद करता है – ये भी पढ़े

भारतीय Stock Market पर Foreign Institutional Investors की Buying और Selling का असर

हमारे Share Market में एक बहुत बड़े हिस्से में FII ने Invest किया है, वे ना केवल Cash Market में Shares को Priority देते हैं, बल्कि इसके अलावा वे Bond, Future, ETF, Option, Equity, Primary Market में Investment करते हैं, भारत के 20 – 25% Market पर उनका Effect होता है, जब उनका इतना बड़ा हिस्सा है, तो उनका Effect हमारे Market पर तो होगा ही! पहले इसका Effect और भी बहुत कुछ होता था, लेकिन अब जब हमारे देश के लोग सीधे Share Market में Investment कर रहे हैं, इस कारण से अब इनका Effect ज्यादा नहीं होता है, लेकिन फिर भी यह और भी अधिक Important है!

Foreign Institutional Investor का Importance इस बात में समझ सकता है कि United States of America World Level पर सबसे पुराना और सबसे बड़ा Market है, जहां अलग-अलग तरह की Company है किसी भी Potential Conditions Uncertainty के Time में Foreign Institutional Investors अक्सर अपनी Position पहले बेचते हैं, जिससे Market के Trend और Investment पर Potential Effect को समझने के लिए उनका Data Important हो जाता है।

Stock Market Conversion के लिए हमारा Telegram Channel Join करे । – Join Now

क्या FII Data पर नजर की आवश्यक होती है?

यदि आप Stock Market में Investment कर रहे हैं, तो Foreign Institutional Investors Data कि आवश्यक नहीं होती है क्योंकि वहाँ पर Company कि Fundamental Analysis करके Investment Desicion लेने में अधिक अच्छा रखता है। Traders के लिए, FII Data का कोई खास Importance नहीं होता है। हालाँकि, यदि आप Nifty और Banknifty के Futures और Options Contract में Trading कर रहे हैं, तो Foreign Institutional Investors Data को Analyze करना आपे के लिए उपयोगी साबित होता है।

FDI क्या है

Foreign Direct Investment (FDI) का तात्पर्य एक देश के व्यक्तियों, Companies या Institutions द्वारा दूसरे देश के Businesses या Assets में किए गए Investment से है। FDI में, Investors किसी दुसरे देश कि Companies में Important Share Holding प्राप्त करता है या Host देश में नए Business Operation शुरू करता है। FDI Global Economic Integration, International Trade को बढ़ावा देने, Technology Transfer और Investment करने वाले और प्राप्तकर्ता दोनों देशों में Economic के विकास में Important Role निभाता है। सरकारें अक्सर Foreign Capital और Specialization को आकर्षित करने के लिए बढ़ावा देती है Favorable Investment Policies की पेशकश करके FDI को बढ़ावा दती हैं।

FII और FDI YouTube Video

FII से जुड़े FAQ

FII Full Form क्या है

Foreign Institutional Investors

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top